Followers

Google+ Followers

Thursday, 22 August 2013

कुछ पल जिन्दगी के होते है कितने अच्छे

















@ 2013 बस यादें सिर्फ यादें ...............
कुछ पल जिन्दगी के होते है कितने अच्छे,
मुलायम और मासूम से,
कभी हम अन्जाने ही मुड जाते उन राहो पर,
निहारने उन लम्हो को,
जो सजे थे प्यार से,
नहीं जानता क्या यादो का रंग है सुनहरा,
पर यादो से मेरा रिस्ता है मीठा गहरा,
आसमान से लेकर नीलाई,
और इन्द्रघनुष से सारे रंग,
किनारो से चुराकर लाली,
और श्वेत फूलो के संग,
चाहता हूँ उन लम्हो का एक चित्र बनाना,
चाहता हूँ उन लम्हो में फिर से जीना,
चाहता हूँ यादो के रंग में आज फिर रंग जाना.................
::::::::::::नितीश श्रीवास्तव :::::::::::::

No comments:

Post a Comment